Badha Nivaran Mantra: क्या हर बाधा का निवारण हनुमान मंत्र से संभव है ?

Badha Nivaran Mantra
493Views
World’s Largest Digital Magazine

Badha Nivaran Mantra: कभी-कभी अपने सर्वोत्तम प्रयासों और कठिन परिश्रम के बावजूद हम अपने उपक्रमों में सफल नहीं हो पाते हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं में असफल  होना, विवाह में विलम्ब, कभी-कभी अस्वस्थता हमें व्याकुल करता है और कभी संबंध हमें कष्ट पहुंचाते हैं, तो कभी अपघात की स्थिति बनाना हमें अज्ञात कारणों से विफलता का सामना करना पड़ता है।

ऐसी परिस्थितियों में हम समझ नहीं पाते  किन कारणों से हम सफल नहीं हो पा रहे है. इन अदृश्य नकारात्मक शक्तिओं को समाप्त करने के लिए हमें दैवीय उपाय करने की आवश्यकता होती है. इसमें सर्वश्रेष्ठ उपाय है बाधानिवारक मंत्र।

बाधानिवारक मंत्र मुख्य रूप से जीवन में आने वाली बाधाओं और कठिनाइयों को दूर करने में मदद करता है। बाधानिवारक मंत्रों का जप सभी समस्याओं को हल करता है और आपको किसी भी कठिन परिस्थिति से बाहर निकालने में सहायता करता है।

यह बाधानिवारक मंत्र जप सभी कठिनाइयों और बाधाओं से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है। बाधानिवारक मंत्रों का नियमित रूप से जप करने से सकारात्मक ऊर्जा में वृद्धि होती है।

बाधानिवारक मंत्र से मन में उत्पन्न भय समाप्त करके आत्मविश्वास जगाता हैं। और कार्य में सफलता और उत्तम परिणाम सुनिश्चित करता हैं।

बाधानिवारक मंत्र (Badha Nivaran Mantra) का रुद्राक्ष की माला से 1,25,000 बार जप करना चाहिए।

1. बाधानिवारक मंत्र (Badha Nivaran Mantra )

।।सर्वबाधा-प्रशमनं त्रैलोकस्याखिलेश्वरि । एवमेव त्वया कार्यस्मद्ववैरिविनाशनम् ।। ॐ नमश्चंडिकायै ।।

2.बाधानिवारक मंत्र

।।ॐ हंसः हंसः।।

3.बाधानिवारक मंत्र

।।कालि कालि महाकालि, मनोऽस्तुत हन हन । दह दह शूलं त्रिशूलेन हुँ फट् स्वाहा ।।

हनुमान मंत्र ( Badha Nivaran Mantra )

Badha Nivaran Mantra

हनुमान मंत्र का उच्चारण असीमित ऊर्जा और प्राण का प्रवाह करता है। हनुमान मंत्र शनि के प्रकोप को कम करने में सहायता करता है और साढ़े साती के प्रकोप को भी कम करता है। हनुमान मंत्र का पाठ छोटे बच्चों को भयानक और डरावने विचारों से छुटकारा दिलाने में सहायता करता है।

हनुमान मंत्र का पाठ नियमित रूप से करने से नकारात्मक शक्ति परेशान नहीं करती हैं. शारीरिक शक्ति, सहनशक्ति और शक्ति पाने के लिए हनुमान मंत्र  का  पाठ  करें।

हनुमान मंत्र के लिए लाल चन्दन की माला, लाल मूंगा की माला १,२५,००० बार जप करना चाहिए।

1. हनुमान मंत्र

।। ॐ हनुमते नमः ।।

2. हनुमान मंत्र

।। हं पवन ननदनाय स्वाहा ।।  

3. हनुमान मंत्र

।। ॐ नमो भगवते आंजनेयाय महाबलाय स्वाहा ।।

 4. हनुमान मंत्र

यह हनुमान मंत्र एक बहुत ही गुप्त मंत्र है जिसमें असीमित शक्ति है। यह हनुमान मंत्र तुरंत परिणाम लाता है।

।। हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट् ।।

Note: ये सभी शक्शिाली मंत्र है अतः इन मंत्रों का उपयोग विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में करे।

यह भी पढ़ें : Navgrah Mantra : नवग्रह मंत्र द्वारा सुख और सफलता की प्राप्ति

World’s Largest Digital Magazine
admin
the authoradmin

Leave a Reply

16 − six =